पेरेंटिंग टिप्स: एक आदर्श पिता बनने के लिए आपके अंदर होनी चाहिए ये खूबियाँ

पिता बनने का सपना हर कोई देखता हैं. हालाँकि सिर्फ बच्चे पैदा कर देने और उसका खर्चा उठाने भर से आपकी जिम्मेदारियां ख़त्म नहीं होती हैं. बच्चे के उज्वल भविष्य और सही मार्गदर्शन हेतु आपको एक आदर्श पिता बनना होता है. एक बच्चा अपने पिता को आइडल मानता हैं और उसके ही नक़्शे कदम पर चलता हैं. ऐसे में पिता का भी ये फर्ज़ बनता हैं कि वो अपने बच्चों के सामने अच्छी मिसाल बने. इस काम में आपकी सहयता के लिए हम आपको एक आदर्श पिता बनने की कुछ टिप्स बता रहे हैं.

अच्छे संस्कार

एक पिता का ये फर्ज बनता हैं कि वो अपने बच्चों को बचपन से ही अच्छे संस्कार सिखाए. इस तरह जब उसका बेटा बड़ा होगा तो वो समाज में आपका नाम ऊँचा करेगा. कुछ ऐसी गलत हरकतें नहीं करेगा जिससे आपकी नाक कट जाए.

पर्याप्त समय

एक पिता माँ की तुलना में बच्चों को कम समय दे पाता हैं. ऐसा उसके नौकरी में व्यस्त होने की वजह से होता हैं. हालाँकि पिता को अपने काम से समय निकाल बच्चों के साथ भी पूरा वक्त बिताना चाहिए. इस तरह आपको पता चलेगा कि बच्चे की लाइफ में क्या चल रहा हैं और वो सही रास्ते पर जा रहा हैं या नहीं.

प्यार ज्यादा, डांट कम

पिता अक्सर बच्चों को डांटने के लिए बदनाम होते हैं. डांट केवल वहीं लगाए जहाँ जरूरत हो. पहले आपको उन्हें प्यार से समझाना चाहिए. ऐसे बात ना बने तो अकेले में डांटे, सबके सामने उनकी बेज्जती ना करे. डांट लगाने के बाद उन्हें प्यार करना भी जरूरी हैं.

दिल की बात शेयर करना

एक बच्चे के दिल में क्या चल रहा हैं ये आपको पता होना चाहिए. घर में ऐसा माहोल बना कर रखे कि बच्चा खुल कर और बिना झिझक या डर के साथ अपने दिल की बात आपके साथ शेयर कर सके. इस तरह कोई गलत काम करने पर या मुसीबत में होने पर भी वो आपको बता सकेगा.