जब प्लास्टिक की बोरी ले 1.50 अरब रु. निकालने बैंक पहुंचा शख्स, कैशियर और गार्ड की हुई ऐसी हालत

अमीरों को अपनी अमीरी झाड़ते हुए आपने बहुत देखा होगा, लोगों पर पैसों का गूरूर देखा होगा और इस गुरूर में पैसे लुटाते हुए भी देखा होगा पर क्या आपने कभी किसी को बोरे में भरकर बैंक से पैसे निकालते हुए देखा है और वो भी हजार, लाख या करोड़ों में नहीं बल्कि अरबों में। जी हां, यूपी में एक युवक पर पैसों का ऐसा भूत चढ़ा कि वो बोरा लेकर डेढ़ अरब रूपए निकालने के लिए बैंक पहुंचा और फिर वहां जो हुआ वो और भी हैरान करने वाला था, चलिए आपको विस्तार से इस घटना के बारे में बताते हैं।

ये घटना यूपी के हापुड़ की है, जहां शहर के कोतवाली इलाके में स्थित पंजाब नेशनल बैंक में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक शख्स 1.50 अरब रु. निकालने के लिए एक प्लास्टिक की बोरी लेकर पहुंचा। ऐसे में जब कैशियर ने जब इंकार किया तो वो अभद्रता पर उतर आया और कैशियर को गाली देने लगा, वहीं मौके पर बीच-बचाव के लिए पहुंचे सुरक्षा गार्ड को भी उसने पीट-पीटकर मार डाला और उसके कपड़े तक फाड़ दिए। ऐसे में सूचना पाकर क्षेत्र के कोतवाल पंकज लवानिया पुलिस बल के साथ वहां पहुंचें और आरोपी को गिरफ्तार किया।

पुलिस के अनुसार, कोतवाली क्षेत्र में रहने वाला मंगल सिंह 31 मार्च की सुबह प्लास्टिक की कट्टा यानि बोरी लेकर पंजाब नेशनल बैंक की मुख्य शाखा पहुंचा, वहां उसने रुपए निकालने के लिए एक फॉर्म भरकर कैशियर को थमाया। जिसमें अमाउंट के रूप में 1.50 अरब डाल रखा था, ऐसे में फॉर्म में 1.50 अरब रु. का अमाउंट देखकर कैशियर के तो होश ही उड़ गए।

ऐसे में रकम देख कैशियर के हाथ-पांव फूल गए और उसने युवक से कहा कि हम इतने रूपए नहीं दे सकते। इतना सुन युवक ने गुस्से में आकर हंगामा शुरू कर दिया और कैशियर को जमकर गालियां देने लगा। वहीं हंगामा होता देख सुरक्षा गार्ड नरेश मौक पर पहुंचा और बीच-बचाव की कोशिश की। पर उस युवक ने गार्ड से लड़ना शुरू कर दिया, हाथापाई में युवक ने गार्ड को जमकर पीटा और कपड़े भी फाड़ दिए।

इसी दौरान बैंक के मैनेजर ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी जिसके बाद कोतवाल पंकज लवानियां पुलिस बल के साथ वहां मौके पर पहुंचे। पुलिस ने हंगामा कर रहे आरोपी युवक को गिरफ्त में लिया और पूछताछ शुरू की, जिसमें आरोपी ने बताया कि वो एक फिल्म डायरेक्टर है, उसके खाते में 5 अरब रुपए आए हैं, जिसमें से वह 1.50 अरब निकालने बैंक आया था।

वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि युवक की दिमागी हालत ठीक नहीं है, जबकि बैंक मैनेजर ने बताया कि, बैंक के इस ब्रांच में युवक का खाता तो है पर उसके एकाउंट में एक भी पैसा नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.