पाकिस्तानी सेना का हेलीकॉप्टर हुआ लापता, 2 सीनियर कमांडर समेत 6 लोग थे सवार

पाकिस्तान सेना के एक हेलीकॉप्टर के बलूचिस्तान में बाढ़ राहत अभियान पर जाते समय दुर्घटनाग्रस्त होने की आशंका है। हेलीकॉप्टर का हवाई यातायात नियंत्रण से संपर्क टूट गया है। इसमें दो सीनियर कमांडर समेत छह लोग सवार थे।

हेलीकॉप्टर ने उत्थल क्षेत्र से उड़ान भरी थी और यह कराची के मसरूर में पाकिस्तान वायु सेना के अड्डे की ओर जा रहा था। विमान इसी दौरान लापता हो गया और उसका हवाई यातायात नियंत्रण से संपर्क टूट गया। पुलिस के एक सूत्र ने बताया कि ऐसा लगता है कि हेलीकॉप्टर पर्वतीय क्षेत्र लसबेला में सस्सी पन्नू नामक स्थान के समीप दुर्घटनाग्रस्त हो गया है।

पुलिस अधिकारी परवेज उमरानी ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू होने के बाद से हेलिकॉप्टर का कोई पता नहीं चला है। उन्होंने कहा कि खराब मौसम के चलते फिलहाल उसकी तलाशी का अभियान रोक दिया गया है। उन्होंने कहा कि मौसम साफ होने पर खोज मंगलवार सुबह फिर से शुरू होगी।

एक खुफिया अधिकारी ने बताया कि विमान में कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल सरफराज अली, दो मेजर और पाकिस्तान तटरक्षक बल के महानिदेशक ब्रिगेडियर अमजद हनीफ सत्ती भी सवार थे। मालूम हो कि असामान्य मानसूनी बारिश के चलते दक्षिणी पाकिस्तान के कई हिस्से बाढ़ का सामना कर रहे हैं। डिजास्टर मैनेजमेंट एजेंसी का कहना है कि बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में कई लोगों की मौत हुई है और बहुत से घर बह गए हैं।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने कहा कि कॉर्प कमांडर क्वेटा लेफ्टिनेंट जनरल सरफराज अली सहित सीनियर अधिकारियों को ले जा रहे सैन्य हेलीकॉप्टर का गायब होना चिंताजनक है। राष्ट्र सभी की सुरक्षित वापसी के लिए प्रार्थना करता है। शहबाज शरीफ ने ट्वीट किया, ‘बलूचिस्तान से आर्मी एविएशन हेलीकॉप्टर का गायब होना चिंताजनक है। पूरा देश प्रार्थना करता है कि बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए गए देश के इन बेटों की सुरक्षित वापसी हो। इंशा अल्लाह।’