ऑटो ड्राइवर ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, रास्ते में मिला मोबाइल से भरा बैग तो सौंप दिया DSP को

मौजूदा समय में सभी लोग पैसा कमाने के पीछे भाग रहे हैं। लोगों को आजकल सिर्फ पैसा ही चाहिए। पैसे के लिए ना जाने लोग क्या-क्या तरीके अपनाते हैं। कुछ भी करके लोग ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं। चाहे तरीका अच्छा हो या बुरा, बस लोग पैसा कमाना चाहते हैं और तरह-तरह की तरकीब ढूंढते रहते हैं परंतु सभी लोगों के लिए सिर्फ पैसा ही मायने नहीं रखता है।

जी हां, इस समाज में ऐसे बहुत से लोग रहते हैं, जो तमाम मोह बंदिशों से अलग आज भी ईमानदारी और इंसानियत की मिसाल पेश कर रहे हैं। इसी बीच झारखंड के बोकारो जिले से एक मामला सामने आया है, जहां पर एक ऑटो ड्राइवर ने ईमानदारी की मिसाल पेश की है। ऑटो चलाने वाले एक चालक को अपने ऑटो में मोबाइल से भरा हुआ एक बैग मिला। ऑटो चालक ने मोबाइल से भरे बैग को सिटी डीएसपी को लाकर सौंप दिया।

ऑटो चालक ने पेश की ईमानदारी की मिसाल

दरअसल, आज हम आपको जिस मामले के बारे में बता रहे हैं यह झारखंड के बोकारो जिले का है। यहां के शहरी इलाके में ऑटो चलाने वाले एक चालक को अपने ऑटो में मोबाइल से भरा हुआ एक बैग पड़ा हुआ मिला था, जिसके बाद ऑटो ड्राइवर ने बैग को सिटी डीएसपी को सौंप दिया। जब सिटी डीएसपी में बैग को खोला तो उसमें 19 एंड्राइड मोबाइल मिले। सिटी डीएसपी कुलदीप कुमार ने अनुमान लगाया कि बैग में इतने सारे मोबाइल मिलने का मतलब है शहर में मोबाइल चोर गिरोह सक्रिय है।

सिटी डीएसपी कुलदीप कुमार ने इस बारे में यह बताया कि इतने सारे मोबाइल का बैग में मिलना यह दर्शाता है कि कहीं ना कहीं मोबाइल चोर गिरोह की सरगना महिला होगी, जो मोबाइल को बच्चों से चोरी कराने का काम करवाती होगी।

ऑटो ड्राइवर ने बताई पूरी घटना

ऑटो चालक घनश्याम सिंह में इस पूरी घटना के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि एक महिला और दो बच्चे कल सेक्टर 9 हरला थाना क्षेत्र से ऑटो में बैठकर नया मोड़ पहुंचे थे, जहां एक बोलेरो सवार व्यक्ति ने महिला को यह कहते हुए उतारा के, पुलिस को चकमा देती हो? घर बंद कर भाग रही हो। इसके बाद महिला और दोनों बच्चों को बोलेरो में बैठा कर ले गया।

घनश्याम सिंह ने आगे यह बताया कि इसी दौरान जब वह घर पहुंचे तो देखा कि एक लाल बैग उनके ऑटो की सीट के नीचे पड़ा हुआ है। जब उन्होंने बैग को खोला तो उसके अंदर कपड़े और मोबाइल उन्होंने देखा। इसके बाद घनश्याम सिंह ने बैग लाकर सिटी डीएसपी को सौंप दिया।

डीएसपी ने ऑटो ड्राइवर के इस कार्य की सराहना की

वहीं ऑटो ड्राइवर घनश्याम सिंह के द्वारा किए गए इस कार्य की डीएसपी कुलदीप कुमार ने सराहना की और कहा कि सभी मोबाइलों की जांच करने का काम किया जाएगा। डीएसपी के मुताबिक, प्रथम दृष्टि से यह लग रहा है कि सभी मोबाइल चोरी के हैं किसी भी मोबाइल में सिम लगा हुआ नहीं है। इसके अलावा बोकारो में मोबाइल चोरी की शिकायत लगातार थानों में दर्ज की जा रही हैं। डीएसपी ने कहा कि कहीं ना कहीं मोबाइल चोर गिरोह की सरगना महिला हो सकती है। सभी थानों से भी महिला के संबंध में पूछताछ की जा चुकी है। किसी भी थाने में महिला को पूछताछ के लिए नहीं लाया गया।