Homeमुख्य समाचारकभी अर्पिता रहती थीं इस घर में, चलाती थी सेकेंड हैंड कार,...

कभी अर्पिता रहती थीं इस घर में, चलाती थी सेकेंड हैंड कार, फिर पार्थ चटर्जी ने ऐसे बदल दी किस्मत

पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी का नाम बीते कुछ दिनों से पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है। आपको बता दें कि पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी 3 अगस्त तक ईडी की हिरासत में हैं। पश्चिम बंगाल में हुए शिक्षक भर्ती घोटाले में पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के दूसरे ठिकाने पर भी प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने छापेमारी की। इस दौरान 29 करोड़ कैश बरामद हुआ। इतना ही नहीं बल्कि 5 किलो सोना भी मिला है।

अर्पिता मुखर्जी को इन दिनों कोई धन कन्या कह रहा है, तो कोई कैश क्वीन कह रहा है। आखिर कोई कहे भी क्यों ना, ED की छापेमारी के दौरान जिस तरह अर्पिता मुखर्जी के घर में नोटों का पहाड़ मिल रहा है उसे देखकर अर्पिता को यह नाम देना लाजमी भी है। बुधवार को अर्पिता के बेलघरिया स्थित दूसरे घर में ईडी ने छापेमारी की। इस घर में इतना पैसा बरामद हुआ कि नोट गिनने की मशीनें मंगवानी पड़ी। नोट गिनने में घंटों लग गए।

आपको बता दें कि अर्पिता मुखर्जी का यह पुश्तैनी वाला घर है, जहां पर उनकी मां रहती हैं। सूत्रों की मानें तो अर्पिता मुखर्जी के दोनों घरों से अब तक 50 करोड़ रुपए नगद बरामद किए जा चुके हैं। इतना ही नहीं बल्कि कई किलो सोना भी मिला है। इसके साथ ही 20 मोबाइल फोन अलग से बरामद किए गए हैं। कभी साधारण से घर में रहने वाली अर्पिता आखिर कैसे आलीशान फ्लैटों की मालकिन बन गई? चलिए जानते हैं…

कभी अर्पिता मुखर्जी बेलघरिया वाले घर में रहती थ

आपको बता दें कि अर्पिता मुखर्जी का बेलघरिया वाला घर 24 परगना जिले में स्थित है, जहां पर वह कभी रहा करती थीं। अर्पिता मुखर्जी के सभी घरों पर ED की छापेमारी लगातार जारी है। बुधवार को ED की टीम ने अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया वाले घर के अलावा कस्बा राजडांगा और बारासात में स्थित साड़ी की दुकान समेत छह स्थानों पर छापेमारी की। ईडी के 15 अफसरों की टीम अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया वाले घर पर पहुंची थी। अर्पिता अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया हाउसिंग में ही दो फ्लैट हैं।

कई फिल्मों में काम कर चुकी हैं अर्पिता मुखर्जी

ईडी की रेड से अर्पिता मुखर्जी सुर्खियों में आईं हैं। अर्पिता मुखर्जी एक अभिनेत्री रह चुकी हैं। उन्होंने बांग्ला फिल्मों में भी काम किया है। कोलकाता के उत्तरी उपनगर बेलघरिया में एक मध्यम वर्गीय परिवार में जन्मी अर्पिता मुखर्जी के बारे में एक रिपोर्ट में ऐसा बताया गया है कि वह कई अहम फिल्मों में साइड किरदार भी निभा चुकी हैं। कॉलेज के दिनों से ही अर्पिता मॉडलिंग करने लगी थीं। अर्पिता को मॉडलिंग के दौरान से ही बंगाली और उड़िया फिल्मों में छोटे-मोटे रोल के ऑफर आने लगे थे।

बंगाली सुपरस्टार के साथ फिल्मों में किया काम

अर्पिता मुखर्जी ने साल 2008 में फिल्म “पार्टनर” से बंगाली फिल्म इंडस्ट्री में डेब्यू किया था। प्रोड्यूसर-डायरेक्टर अनुप सेनगुप्ता ने यह बताया था कि वह फिल्म “मामा भगने (2010)” के लिए हीरोइन की दोस्त के लिए एक लड़की की तलाश कर रहे थे। तभी उनको किसी ने अर्पिता से मिलवाया था। इसके बाद उन्होंने अर्पिता को काम दिया। इसके बाद उन्होंने साल 2011 में आई फिल्म “बांग्ला बचाओ” में भी अर्पिता को रोल दिया था, जिसमें एक बार फिर से बंगाली सुपरस्टार प्रोसेनजीत चटर्जी के साथ अर्पिता साथ काम करते हुए नजर आईं थीं।

कभी चलती थी सेकेंड हैंड कार से

अनूप सेनगुप्ता ने बताया कि उन्होंने अर्पिता को साइड एक्ट्रेस के तौर पर काम दिया था। वह यह देखकर हैरान है कि अर्पिता के घर इतना सारा पास कहां से आया। वह बताते हैं कि जहां तक मैं उसे जानता हूं तो वह एक मिडिल क्लास फैमिली से आती है। अनूप सेनगुप्ता ने बताया कि वह अर्पिता को सेकंड हैंड कार से चलते हुए देख चुके हैं।

पिता के निधन के बाद ऑफर हुई नौकरी को मना कर दिया

आपको बता दें कि अर्पिता की एक छोटी बहन भी है, जो शादीशुदा है। वहीं अर्पिता की मां मिनाती मुखर्जी बेलघरिया में अपने पैतृक घर में ही रहती हैं। अर्पिता के पिताजी सेंट्रल गवर्नमेंट में जॉब करते थे लेकिन जब उनका अचानक ही निधन हो गया तो अर्पिता को नौकरी ऑफर हुई लेकिन अर्पिता ने करने से इंकार कर दिया था। वह मॉडलिंग और एक्टिंग की दुनिया में अपना करियर बनाना चाहती थी।

फिर पार्थ चटर्जी से मुलाकात ऐसे हुई

बांग्ला की एक एक्ट्रेस ने पार्थ चटर्जी से अर्पिता मुखर्जी की पहली मुलाकात करवाई थी, जिसके बाद पार्थ चटर्जी ने अर्पिता को कोलकाता की एक बड़ी दुर्गा उत्सव समिति का स्टार प्रचारक बनवा दिया था। जब पार्थ चटर्जी से मुलाकात हुई तो उसके बाद मानो अर्पिता की किस्मत ही पलट गई।

अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट को सील कर दिया गया

ईडी ने अर्पिता के बेलघरिया टाउन क्लब स्थित दो लाइट्स में से एक को सील कर दिया है। बता दें कि अर्पिता मुखर्जी के दोनों घरों से अब तक 50 करोड़ से भी अधिक कैश बरामद किया जा चूका है। इतना ही नहीं बल्कि बड़ी मात्रा में सोना भी जब्त किया गया है।

Must Read

spot_img