कुछ लोग ऐसा माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं जो भारत की प्रगति को बाधित कर रहा है: अजीत डोभाल

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (National Security Adviser Ajit Doval) ने धर्म और विचारधारा के नाम पर सद्भाव को बिगाड़ने और अशांति पैदा करने की साजिश रचने वाली ताकतों से सतर्क रहने की चेतावनी दी है. दिल्ली में अखिल भारतीय सूफी सज्जादनशीन परिषद (All India Sufi Sajjadanashin Council) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में डोभाल ने यह टिप्पणी की. कार्यक्रम के दौरान धार्मिक प्रमुखों ने चर्चा की. साथ ही शांति और एकता के लिए एक प्रस्ताव पारित किया.

डोभाल ने कहा, “कुछ तत्व ऐसा माहौल तैयार करने की कोशिश कर रहे हैं जो भारत की प्रगति को बाधित कर रहा है. वे धर्म और विचारधारा के नाम पर कटुता और संघर्ष पैदा कर रहे हैं और यह पूरे देश को प्रभावित कर रहा है और यह देश के बाहर भी फैल रहा है.”

साथ ही डोभाल ने कहा कि धार्मिक शत्रुता के मुकाबले के लिए हमें एक साथ काम करना होगा, हर धार्मिक निकाय को भारत का हिस्सा बनाना होगा, हम साथ तैरेंगे और साथ डूबेंगे. उन्‍होंने कहा कि कुछ लोग धर्म के नाम पर विद्वेष पैदा करते हैं, हमें इसको लेकर मूकदर्शक बनने की जरूरत नहीं है. उन्‍होंने कहा कि धार्मिक विद्वेष का मुकाबला करने के लिए हमें एक साथ काम करना होगा

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार की चेतावनी निलंबित भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा टीवी पर पैगंबर मुहम्मद पर की गई टिप्पणी के करीब दो महीने बाद आई है, जिसकी खाड़ी देशों ने भी निंदा की थी. इसके बाद भारत ने आश्वासन दिया था कि वह इस तरह के तत्‍वों द्वारा की गई टिप्पणियों को बर्दाश्त नहीं करेगा.

राजस्थान के उदयपुर में एक हिंदू दर्जी की दो मुस्लिमों ने कैमरे के सामने हत्या कर दी थी. शर्मा की टिप्पणी से देश के कुछ हिस्सों में झड़पें भी हुईं.