Homeराजनीतिनिर्मला सीतारमण ने गहलोत पर लगाए थे आरोप, गहलोत के मंत्रियों ने...

निर्मला सीतारमण ने गहलोत पर लगाए थे आरोप, गहलोत के मंत्रियों ने दिया जवाब

अडानी डील पर राजस्थान के सीएम गहलो पर हमलावर हुई केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के खिलाफ गहलोत के मंत्रियों ने मोर्चा खोल दिया है। मंत्री बीडी कल्ला और राजेंद्र यादव ने केंद्रीय मंत्री पर पलटवार किया है। दोनों मंत्रियों ने निर्मला सीतारमण द्वारा राजस्थान में अडानी ग्रुप को जमीन देने के बयान पर शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला और उच्च शिक्षा मंत्री राजेन्द्र यादव ने जवाब देते हुए कहा कि निर्मला सीतारमण को पता नहीं है की राजस्थान में अडानी के अलावा अन्य लोगों को भी उद्योग के लिए जमीन दी गई है।

मंत्री राजेंद्र यादव ने कहा कि राजस्थान में समानता का अनुसरण किया जाता है, बिड तय होती है और जो बिड में शामिल होता है। उसको जमीन दी जाती है। केन्द्र ने हवाई अड्डे और बंदरगाह तक दे दिए। यहां तो पहले केन्द्र से एमओयू होता है और उसके बाद राज्य सरकारों को उनका अनुसरण करना पड़ता है। राजस्थान में अलग से कोई विशेष सुविधा नहीं दी जा रही है।

मंत्री राजेंद्र यादव बोले- समानता का अनुसरण किया

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर जनसुनवाई के बाद दोनों मंत्रियों ने निर्मला सीतारमण के बयान पर खुलकर बात की। मंत्री राजेंद्र यादव ने कहा कि केंद्रीय मंत्री को सीएम गहलोत की आलोचना करने से पहले तथ्यों को देख लेना चाहिए। गहलोत सरकार ने केंद्र से जो एमओयू होता है। सिर्फ उसका अनुसरण किया है।

बोली में जो शामिल होता है। उसके सरकार रोक नहीं सकती। राज्य सरकार ने समानता का अनुसरण किया है। इसलिए केंद्रीय मंत्री बिना सोच-समझकर सीएम गहलोत की आलोचना कर रही है। उल्लेखनीय है कि सोमवार को राजस्थान में अंबानी-अडानी डील पर निर्मला सीतारमण ने सीएम गहलोत पर सीधा हमला बोला था। इसके बाद गहलोत सरकार को दो वरिष्ठ मंत्रियों ने केंद्रीय मंत्री पर पलटवार किया है।

निर्मला सीतारमण ने गहलोत पर लगाए थे आरोप

उल्लेखनीय है कि सोमवार को निर्मला सीतारमण ने कहा कि सीएम गहलोत अंबानी-अडाणी को बुलाकर एमओयू कर रहे हैं। जबकि राहुल गांधी जयपुर में उनके खिलाफ ही भाषण दिया था। सीतारमण ने कहा कि कांग्रेस आरोप लगाती है मोदी सरकार अंबानी-अडाणी के लिए काम करती है। आप लोग यही कहते हो। सिर्फ दो उदाहरण देना चाहती हूं। राजस्थान में सोलर पावर प्रोजेक्ट के लिए 11 जून 2022 और 15 दिसम्बर 2021 में राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत की कैबिनेट ने डिसीजन लेकर 2397 हेक्टेयर जमीन अडानी रिन्यूएबल एनर्जी होल्डिंग कम्पनी को दी है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार ने अडाणी को सोलर पावर प्रोजेक्ट के लिए जमीन दी है। हम अडाणी-अंबानी के चक्कर में नहीं आए। आप बुला-बुलाकर अडाणी को जमीनें दे रहे हो। उल्लेखनीय है कि सीएम गहलोत कैबिनेट ने 11 जून 2022 को अडानी रिन्यूएबल एनर्जी कम्पनी को जैसलमेर में 1000 मेगावाट सोलर पावर प्रोजेक्ट के लिए 2397 हेक्टेयर सरकारी जमीन कीमत लेकर अलॉट करने का भी बड़ा निर्णय लिया था।

Must Read

spot_img